धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

सोमवार, 17 जुलाई 2017

अमरनाथ हादसा: बस खाई में गिरी, 16 मृतकों में 4 बिहार के

श्रीनगर / पटना। अमरनाथ यात्रियों से भरी बस रविवार को जम्मू-कश्मीर के रामबन जिले में जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग से फिसलकर गहरे नाले में गिर गई। इस हादसे में 16 यात्रियों की मौत हो गई, जबकि 30 अन्य घायल हुए हैं। 

रामबन के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मोहनलाल ने बताया है कि तीर्थयात्रियों को ले जा रही बस दोपहर में नचलाना क्षेत्र स्थित एक नाले में गिर गई। हादसे में जान गंवाने वालों में दो महिलाएं भी शामिल हैं। मरने वाले यात्री यूपी, बिहार, राजस्थान, असम, हरियाणा और मध्य प्रदेश के हैं। घायल यात्रियों में से 19 की हालत नाजुक बताई जा रही है। 
पुलिस अधिकारी ने बताया कि हादसे का शिकार बनी बस जम्मू-कश्मीर राज्य सड़क परिवहन कॉरपोरेशन की बसों के काफिले का हिस्सा थी। इस काफिले में 3,603 अमरनाथ यात्रियों को जम्मू से बालटाल और पहलगाम ले जाया जा रहा था। हादसे के 11 घायलों को बनिहाल जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि 19 को गंभीर हालात में एयरलिफ्ट कर हेलीकॉप्टर से जम्मू लाया गया और विशेष चिकित्सा उपलब्ध कराई जा रही है। हादसे के बाद पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के जवानों ने स्थानीय लोगों की मदद से बचाव अभियान चलाया और घायलों व जान गंवाने वालों के शवों को गहरे नाले से बाहर निकाला।
गृहमंत्री ने ली जानकारी
हादसे के बाद केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर दुख जताया। कहा, रामबन के पास हुई दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना के बारे में उन्होंने जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और राज्यपाल एनएन वोहरा से बात की है। गृहमंत्री ने कहा कि सीएम ने बचाव अभियान चलाए जाने और घायलों को इलाज के लिए जम्मू-कश्मीर लाने की जानकारी दी है। राज्यपाल ने भी दुर्घटनास्थल का दौरा किया और गृहमंत्री को स्थिति की जानकारी दी है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी दुर्घटना पर शोक जताया। उन्होंने ट्वीट किया, अमरनाथ यात्रा पर गए श्रद्धालुओं की बस दुर्घटना के कारण हुई मौत की खबर सुनकर दुखी हूं। मैं पीड़ित परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।

मृतकों में बिहार के 4, गाजियाबाद के 3 श्रद्धालु भी शामिल
जम्मू-कश्मीर में रविवार को हादसे का शिकार हुई अमरनाथ यात्रियों से भरी बस में बिहार के भी चार श्रद्धालुओं की मौत हो गई। हादसे में प्रदेश के पांच यात्री घायल भी हुए हैं, जबकि एक महिला के लापता होने की सूचना है। जानकारी के अनुसार, जान गंवाने वाले प्रदेश के सभी चार श्रद्धालु पटना जिले के दानापुर के हैं, जबकि सहरसा जिले की महिला छाया देवी अभी लापता हैं। मृतक श्रद्धालुओं में पवन कुमार पुत्र दीनानाथ प्रसाद चौधराना मोहल्ला दानापुर, रोहित कुमार पुत्र शहिन प्रसाद पटना, सागर कुमार पुत्र प्रदीप प्रसाद गांधी पथ और दिलीप कुमार पुत्र दीनानाथ प्रसाद शामिल हैं। लापता महिला छाया देवी के पति विजय चौरसिया भी दुर्घटना में घायल हुए हैं। सहरसा से एक अन्य घायल यात्री रंजीत कुमार हैं, जबकि दानापुर से घायलों में रंजीत, चनपटी देवी, रेखा देवी, शामिल हैं। मृतकों और घायलों में बिहार के नागरिकों की संख्या बढ़ सकती है। अभी कई की पहचान नहीं हो पाई है।
हादसे में जान गंवाने वालों में तीन श्रद्धालु गाजियाबाद के मोदीनगर से हैं, जबकि एक दिल्ली का शामिल है। गाजियाबाद से रविंद्र सिंह पुत्र रघुबीर सिंह मकान संख्या 277 इंदिरापुरी मोदीनगर, रविंद्र सिंह पुत्र राजिंद्र सिंह मकान संख्या 375 गली संख्या एक शेरपुर धर्मशाला मोदीनगर और सिकंदर पुत्र प्रीतम शाहपुर मोदीनगर हादसे का शिकार बने हैं। इसके अलावा एक श्रद्धालु की पहचान रचित शर्मा पुत्र आरएल शर्मा सी7/2012 एसडीए हौजखास नई दिल्ली के तौर पर हुई है।
प्रधानमंत्री ने दी सहायता राशि
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सड़क हादसे में जान गंवाने वाले अमरनाथ श्रद्धालुओं को दो-दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये सहायता राशि उपलब्ध कराने की बात कही है।
हेल्पलाइन नंबर जारी
सरकार ने रामबन में दुर्टनाग्रस्त हुई बस में सफर कर रहे अमरनाथ यात्रियों के बारे में जानकारी देने के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। इस बाबत कोई भी सूचना लेने के लिए हेल्पलाइन नंबर 091-2560401 और 0191-254200 पर कॉल कर सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

Gadget

यह सामग्री अभी तक एन्क्रिप्ट किए गए कनेक्शन पर उपलब्ध नहीं है.

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।