ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** आपके लगातार सहयोग से पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 9 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। ताजा समाचार *** नवगछिया- गोसाईंगांव के पास नदी में डूबने से एक की मौत, लाश नहीं हुई बरामद, सिंघिया मकंदपुर निवासी अरुण साह का पुत्र राहुल कुमार के नाम की है चर्चा *** ***

शनिवार, 27 मई 2017

बिहार के अफसरों में हड़कंप, 22 बीडीओ होंगे ​सस्पेंड, 13 डीडीसी से शो कॉज

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क, पटना : बिहार सरकार विकास कार्य को लेकर काफी गंभीर है. सयम पर कार्य हो, इसके लिए हर कोशिश कर रही है. यही वजह है कि योजनाओं में हो रही लेटलतीफ पर एक्शन लेने में नहीं चूक रही है. ऐसे ही एक निर्णय से सरकार के बिहार प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों में हड़कंप मच गया है.

सूत्रों के अनुसार बिहार सरकार के ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने सूबे के लेटलतीफ अफसरों पर कार्रवाई करने का आदेश दिया है. उन्होंने 10 जिलों के 22 बीडीओ (प्रखंड विकास पदाधिकारी) को निलंबित करने का आदेश जारी किया है. इतना ही नहीं, 13 डीडीसी (उपविकास आयुक्त) पर एक्शन लेने को कहा गया है. फिलहाल उन डीडीसी से शो कॉज पूछने का आदेश मंत्री ने दिया है.
बताया जाता है कि राज्य में प्रधानमंत्री आवास योजना और इंदिरा आवास योजना की असंतोषजनक प्रगति के बाद इन पदाधिकारियों पर कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है. सूत्रों के अनुसार बैठक कल आयोजित की गयी थी. इसी बैठक में मंत्री श्रवण कुमार ने ‘प्रपत्र क’ का गठन करते हुए अफसरों को सस्पेंड करने का आदेश दिया.
बता दें कि ग्रामीण विकास विभाग ने समीक्षा बैठक में मंत्री श्रवण कुमार आक्रोशित हो गये, जब पाया कि प्रधानमंत्री आवास योजना और इंदिरा आवास योजना का कार्यान्वयन अफसरों की लेटलतीफी के कारण ठीक से नहीं हो पा रहा है. गरीब गुरबों के घर नहीं बन पा रहे हैं. उन्हें खुले आकाश के नीचे रहना पड़ रहा है. मंत्री ने दो टूक पूछा कि सीनियर अफसरों को एसी रूम में भी नींद नहीं आती है, तो खुले आसमान के नीचे धूप, बारिश की मार झेल रहे लोग कैसे सोते हैं. इसके बाद उन्होंने संबंधित अफसरों पर कड़ी कार्रवाई की. उन्होंने स्पष्ट कहा कि तमाम विकास योजनाओं में लेटलतीफी नहीं चलेगी, इसलिए अफसर तेजी से काम करें, वरना कार्रवाई के लिए तैयार रहें.
इन पर गिरी गाज
बक्सर : ब्रह्मपुर व चौगांई के बीडीओ
जहानाबाद : सदर व मखदुमपुर के बीडीओ
लखीसराय : बड़हिया, चानन, पिपरिया, रामगढ़ व सूर्यगढ़ा के बीडीओ
मुजफ्फपुर : मीनापुर के बीडीओ
प चंपारण : नरकटियागंज के बीडीओ
पटना : बख्तियारपुर व संपतचक के बीडीओ
पूर्वी चंपारण : मेहसी के बीडीओ
रोहतास : डेहरी, कोचस, राजपुर व सासाराम के बीडीओ
समस्तीपुर : मोरवा के बीडीओ
वैशाली : लालगंज, महनार व राजापाकड़ के बीडीओ

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।