ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** ध्यान दें-- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप में प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. ***

गुरुवार, 13 अप्रैल 2017

भागलपुर : अंग प्रदेश में लोक पर्व विशुआ कल, बैसाखी आज

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क, भागलपुर : जिले में आठ दिनों तक विभिन्न समुदाय व समाज की ओर से अलग-अलग अवसर पर उत्सव मनाया जायेगा. 13 अप्रैल को सिख श्रद्धालुओं की बैसाखी व बंगाली समाज का नववर्ष, 14 अप्रैल को विशुआ व इसाइयों का गुड फ्राइडे व 16 अप्रैल को ईस्टर होगा. अप्रैल माह में विविध समुदायों का त्योहार व उत्सव का अंदाज अलग-अलग होगा. पकवान भी अलग-अलग होंगे

अंग क्षेत्र का लोक पर्व है विशुआ

अंग क्षेत्र का लोक पर्व विशुआ की तैयारी बाजार में शुरू हो चुकी है. ज्योतिषाचार्य डॉ सदानंद झा ने बताया कि विशुआ पर्व में सत्तू गुड़ का भोजन ग्रहण करेंगे और अपने दिवंगत पूर्वज के नाम पर मिट्टी के घड़ा में जल भर कर, टिकोला व हाथ का पंखा आदि गरीबों को दान करते हैं. मान्यता है कि यह सीधे पूर्वजों को जायेगा. सामान्य विशुआ व्रती उस दिन सत्तू गुड़ का ही भोजन करते हैं. विशुआ के रात्रि में भोजन बना कर दूसरे दिन बासी भोजन खाने की मान्यता है. गौ पालक का रिवाज है कि विशुआ के दिन वह दूध नहीं बेचते हैं और गाय-भैस के संरक्षक देवता बाबा विशु राउत को सभी दूध चढ़ा देते हैं. इसे गर्मियों की शुरुआत भी माना जाता है.  गांवों में भरथरी(भतृर्हरि) का गुण गाया जायेगा, जिसमें भगवान विष्णु की पूजा की जायेगी.

सजती है रंगोली, गले मिलते हैं समाज के लोग  : शहर के अलग-अलग हिस्सों में बसे बंगाली समाज के लोग 15 अप्रैल को बांग्ला नववर्ष मनायेंगे. बंगाली समाज के लोगों ने एक-दूसरे को शुभ नववर्षों बोल कर नववर्ष की बधाई देते और एक-दूसरे से गले मिलते हैं. उस दिन लोग प्रात: से ही जग कर अपने-अपने घर की सफाई में जुट जाते हैं. महिलाओं द्वारा घर में रंगोली सजायी जाती है.  इसे देख कर किसी उत्सव से कम नहीं कहा जा सकता है. पूरे बंगाली बहुल क्षेत्र में उत्सवी माहौल होता है. सभी के घरों में तरह-तरह के व्यंजन, जिसमें मछली के अलग-अलग वेराइटी माछेर पातुड़ी, माछेर कलिया, मुड़ी घोंतो आदि व मिठाई व शाकाहारी भोजन तैयार किये जाते हैं.

गुरुद्वारा में मनाया जायेगा बैसाखी
सिख समुदाय में वैशाखी उत्सव का विशेष महत्व है. इस बार मुंबई के रागी जत्था भाई बलजीत सिंह पधार रहे हैं. इस दिन वह कीर्तन करेंगे. इस क्रम में लंगर होगा. सरदार हर्षप्रीत सिंह बताते हैं कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली आदि स्थानों पर सिख बहुल क्षेत्र में बैसाखी मेला लगता है. इस दौरान लड़के तलवारबाजी, घुड़सवारी व भांगड़ा नृत्य करते हैं, तो लड़कियां गिद्धा नृत्य करती हैं. 1699 में गुरु गोविंद सिंह ने वैशाखी के दिन देश की एकता, अखंडता व धर्म निरपेक्षता के लिए पंज प्यारे को अमृत पिला कर जीवित करने का कार्य किया. इसे तभी से साधना दिवस के रूप में मनाते आ रहे हैं. 

मौन डे थर्स डे से शुरू होगा इसाई धर्म उत्सव

क्राइस्ट चर्च के कोषाध्यक्ष जेके झा ने बताया कि गुड फ्राइडे14 अप्रैल को मनाया जायेगा. इससे एक दिन पहले मौन डे थर्स डे होगा. इसमें प्रभु भोज विधि से शाम को आराधना होगी. गुड फ्राइडे के दिन प्रभु यीशु को सूली पर चढ़ाया गया था. इस दिन सात अलग-अलग विद्वान सात वाणी पर प्रवचन देंगे. इसके दो दिन बाद 16 अप्रैल को ईस्टर मनाया जायेगा. श्री झा ने बताया कि ईस्टर के दिन अल सुबह प्रभु यीशु पुनर्जीवित हुए थे. कब्र के ऊपर का चट्टान हट गया था. प्रभु यीशु साक्षात सबके सामने थे. इस खुशी में ईस्टर पर्व मनाते हैं. कब्रिस्तान में पूर्वजों को मोमबत्ती व धूप जला कर श्रद्धांजलि देते हैं

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।