ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** आपके लगातार सहयोग से पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 9 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। ताजा समाचार *** नवगछिया- गोसाईंगांव के पास नदी में डूबने से एक की मौत, लाश नहीं हुई बरामद, सिंघिया मकंदपुर निवासी अरुण साह का पुत्र राहुल कुमार के नाम की है चर्चा *** ***

रविवार, 26 मार्च 2017

बिहार में भी बंद होंगे अवैध बूचड़खाने- मंत्री

पटना : उत्तर प्रदेश के बाद अब बिहार में भी अवैध बूचड़खाने बंद किए जाएंगे। सरकार जिलों में चल रहे वैध बूचड़खाना पर भी नजर रखेगी। इस सिलसिले में सभी जिला के डीएम व एसपी को पत्र लिखा गया है। जिसमें उनसे कहा गया है कि वे अवैध बूचड़खानों को तत्काल बंद करा मुख्यालय को रपट भेजें। साथ ही वैध बूचड़खानों पर भी नजर रखें।

विधान परिषद में शनिवार को भाजपा के सूरजनंदन प्रसाद के सवाल पर पशुपालन एवं मत्स्य संसाधन विभाग के मंत्री अवधेश कुमार सिंह ने कहा कि प्रदेश में अवैध रूप से पशुओं का वध करने की इजाजत नहीं है। इस संबंध में 2012 में ही आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर दिए गए थे। इस मामले में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सभी डीएम और एसपी से वैध बूचड़खानों की सूची मांगी गई है।

पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग का बजट पेश

मंत्री ने आगामी वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए 581 करोड़ रुपये का बजट सदन में पेश किया। सभी गौशालाओं में चारा उत्पादन की व्यवस्था की जाएगी। गौमूत्र से औषधि का निर्माण किया जाएगा। कहा कि बकरी एवं भेड़ विकास योजना के तहत पूर्णिया के मरंगा में बकरी पालन सह प्रजनन केन्द्र का सुदृढ़ीकरण किया जा रहा है। 2067 एससी एवं एसटी समेत 4331 दूध उत्पादकों एवं समिति के सदस्यों को प्रदेश के प्रसिद्ध संस्थानों में गव्य विज्ञान तकनीक का प्रशिक्षण दिया जाएगा। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत 1750 स्वचालित दूध संग्रहण केन्द्र की स्थापना की जा रही है।’

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।