फेसबुक के बिहार पुलिस पेज पर पोस्ट करने हेतु सभी यूजर्स के लिए जारी किया गया दिशा-निर्देश

फेसबुक के बिहार पुलिस पेज पर पोस्ट करने हेतु सभी यूजर्स के लिए जारी किया गया दिशा-निर्देश

 बिहार पुलिस के अधिकारिक सोशल मीडिया फेसबुक पेज पर अपनी प्रतिक्रिया एवं टिप्पणी भेजने से सम्बंधित निम्नलिखित दिशा-निर्देशों का कृपया ध्यान रखेंः-

1. यदि हम सब सामान्य शिष्टाचार का प्रयोग करें तो सभी इस पेज पर संवाद एवं विचारों का आदान-प्रदान करने में सहज महसूस करेंगे। इस पेज का उद्देश्य अपने विचारो/सुझावों को शिष्टता पूर्वक रखना है, ना कि आरोप या दोषारोपण करना। सदस्यों को पता होना चाहिए कि यह सिर्फ पुलिस का पेज नहीं है बल्कि समस्त जनता से संवाद के लिए है, जिसका उद्देश्य पुलिसिंग को और बेहतर बनाना है। 

2. कृपया अपने प्रश्न से अवगत करायें। हम आपकी बातों को सुनना चाहते हैं। 

3. कृपया अपशब्द एवं अश्लील भाषा का प्रयोग न करें। 

4. कृपया अपमानजनक, भय पैदा करने वाले एवं हिंसा को प्रोत्साहित करने वाले पोस्ट ना करें।

5. कृपया कोई ऐसी टिप्पणी/ पोस्ट ना करें, जो किसी पीड़ित/संदिग्ध या किसी अन्य के प्रति अपमानजनक/भड़काऊ मानी जा सकती है। 

6. किसी भी आपात स्थिति के लिए डायल 112, संबंधित जिला के पुलिस अधीक्षक अथवा थाना पर फोन करें। इस पेज का 24x7 अनुश्रवण नहीं किया जाता है, बल्कि प्रत्येक दिन समय-समय पर इसकी जाँच की जाती है। 

7. अनुरोध करते समय कृपया ध्यान रखें कि हम केवल उन्हीं पोस्ट का जवाब दे सकते हैं, जिसमें समय, तारीख और विशिष्ट स्थान का जिक्र हो। उपरोक्त सूचना के बिना हम किसी पोस्ट का जवाब नहीं दे सकते। 

8. सदस्यों से अनुरोध है कि छदम नाम/फेक एकाउंट से किसी प्रकार का पोस्ट ना करें। सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म के नियमों का पालन करते हुए अपने वास्तविक एकाउण्ट से हीं पोस्ट करें। फेक व्यक्ति/प्रोफाइल को प्रतिबंधित कर दिया जायेगा। यह जानकारी होनी चाहिए कि किसी भी ऐसे फेक एकाउण्ट को जो किसी कंप्यूटर या मोबाईल पर बनाया गया है, के संबंध में पता लगाया जा सकता है। 

9. इस पेज पर किये गये पोस्ट संक्षिप्त एवं तथ्यात्मक होने चाहिए। कृपया लम्बे एवं अपने राजनीतिक विचारों से संबंधित पोस्ट करने से बचें। 

10. यदि आप जिले के पुलिस विभाग से संबंधित कोई कमी बताना चाहते हैं तो घटना के सम्बन्ध में स्पष्ट जानकारी देते हुए साक्ष्यों को भी उपलब्ध करायें। अनर्गल टिप्पणियों से बचें।  

11. अगर किसी को लगता कि किसी पुलिसकर्मी ने किसी कानून का उल्लंघन किया है तो संबंधित जिले की पूरी पुलिस को दोष देने के बचाय उस घटना विशेष को उद्धृत करने का प्रयास करना चाहिए ताकि उन्हें सुधारा जा सके साथ ही साथ पुरे पुलिस बल का मनोबल बढ़े, चोट नहीं पहुँचे। 

12. अगर किसी व्यक्ति की राय से असहमति व्यक्त करना चाहते हैं तो ऐसा निष्पक्ष भाव से विनम्रता पूर्वक करें। व्यक्तिगत अलोचना एवं टिप्पणी न करें। व्यक्तिगत हमलो में लिप्त यूजर्स को बिना सूचना के मॉडरेशन पर रखा जा सकता हैं और पेज से सदस्यता समाप्त की जा सकती है।

13. विज्ञापन पोस्ट ना करें।

14. व्यक्तिगत/जातीय/नस्लीय/लिंग आधारित अपमान या आपत्तिजनक  टिप्पणी पोस्ट ना करें। 

15. व्यक्तिगत न लें। एक अच्छा नियम है कि विचारों की आलोचना करें, व्यक्तियों की नहीं। 

16. आप जो कहते हैं उसका अवलोकन करें। जो आप लिखते हैं, उसके जिम्मेवार आप स्वयं हैं। इस पेज पर आगन्तुकों द्वारा व्यक्त की गई राय, विभाग की राय को नहीं दर्शाती है।

17. अगर आप जिला पुलिस अधीक्षक को सूचना सीधे प्रेषित करना चाहते हैं तो  आप व्यक्तिगत मैसेज उनके आधिकारिक फोन नंबर पर कर सकते हैं या आधिकारिक एकाउण्ट पर ईमेल कर सकते हैं। फोन नंबर और ईमेल से संबंधित वेबसाईट का लिंक police.bihar.gov.in है। 

18. आप के द्वारा इस पेज पर पोस्ट की जानेवाली सामग्री अवैध, अश्लील, अपमानजनक, धमकी देने वाली या बौद्धिक सम्पदा अधिकारो का दुरूपयोग करने वाली नहीं होनी चाहिए और देश के किसी भी कानून का उल्लंघन नहीं होना चाहिए। 

19. हम आपके द्वारा पोस्ट की गई किसी भी सामग्री को माॅडरेट करने और हटाने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं। पोस्टिंग दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करने वाले सदस्यों को अग्रिम सूचना के बिना मॉडरेशन पर रखा जा सकता हैं और पेज से सदस्यता समाप्त की जा सकती है। हम आपकी टिप्पणियों, सुझावों और आलोचनाओं के लिए तत्पर हैं।

20. पुलिस विभाग के द्वारा बिना सोचे समझे और विचार किए पोस्ट को नहीं हटाया जाता है। प्रत्येक फेसबुक /ट्विटर पेज की सामग्री पेज के व्यवस्थापक/पंजीकृत स्वामी के विवेक पर निर्भर करता है। फेसबुक दिशा-निर्देशों के अनुसार, पुलिस विभाग सहिष्णु होने का प्रयास करता है; हलांकि  अनुपयुक्त टिप्पणियों को हटा दिया जाएगा। 

21. इस मंच को सद्भाव के महौल में जानकारी साझा करने और सवालों के जवाब देने हेतु डिजाइन किया गया है पुलिस विभाग समालोचनाओं का स्वागत करता है।

22. पुलिस विभाग कानून प्रक्रिया के अनुसार काम करता है, जो किसी भी संदिग्ध को अदालत में दोषी साबित होने तक निर्दाेष मानता हैं। हम  फेसबुक पर हमारे साथ जुड़ने वालो को समान रूप से सम्मान देते हैं और उनके विचारों की सराहना करते है। आपके समर्थन के लिए धन्यवाद। हमें बताऐं कि हम आपकी मदद किस तरह से कर सकते हैं। हम आपके प्रत्येक पोस्ट का उत्तर देने का प्रयास करते हैं।

आपके सुझावों और सहयोग के लिए धन्यवाद। 
बिहार पुलिस आपकी सेवा में सदैव तत्पर है बिहार पुलिस आपकी सेवा में सदैव तत्पर है।