ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** आपके लगातार सहयोग से पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 9 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। ताजा समाचार *** नवगछिया- गोसाईंगांव के पास नदी में डूबने से एक की मौत, लाश नहीं हुई बरामद, सिंघिया मकंदपुर निवासी अरुण साह का पुत्र राहुल कुमार के नाम की है चर्चा *** ***

शनिवार, 10 दिसंबर 2016

सोने के सिक्के मिलने के बाद छावनी में बदला यह इलाका, मिट्टी भी छूने नहीं दे रही पुलिस

टोंक (राजस्थान) । टोंक में पुरातन काल के सोने के सिक्के मिलने के बाद अब पूरे क्षेत्र को पुलिस ने छावनी में बदल दिया है। सिक्कों की तलाश तो दूर प्रभावित क्षेत्र की मिट्टी तक को पुलिस किसी को छूने नहीं दे रही है।

पुराततत्व विभाग की टीमों ने कई बार प्रभावित क्षेत्र का दौरा कर लिया है। पूरी रिपोर्ट जल्द ही सरकार को भेजी जानी है। उधर सिक्के मिलने के बाद टोंक पुलिस ने पूरे मामले को गंभीरता से लिया है और सिक्के तलाश कर घर ले जाने वालों को एक मौका दिया है। पुलिस ने माइक से मुनादी कराते हुए लोगों से कहा है कि वे जल्द ही सिक्के लौटा दें, कोई कार्रवाई नहीं होगी। अगर पुलिस को सिक्के मिलते हैं तो मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

माइक लेकर गांव-गांव भटकी पुलिस

मामले की जांच कर रहे डिग्गी थाना प्रभारी प्रेमसिंह नाथावत ने शुक्रवार को नाडी के आस-पास के गांवों में पुलिस की गाड़ी से माइक के जरिए लोगों से नाडी से प्राप्त सोने के सिक्के पुलिस को सौंपने की अपील करते हुए कहा कि सोने के सिक्के पुरातत्व विभाग की सम्पति है जिस पर आम लोगों का कोई अधिकार नहीं है।

ऐसे में अगर सिक्के खोजने वाले ग्रामीण व खरीददार अपने पास से सिक्कों को पुलिस के सुपुर्द कर देते हैं तो पुलिस उन पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं करेगी तथा बाद में मिलने पर कार्यवाही संभव है।

नाथावत ने बताया कि गत तीन-चार महीनों से सिक्के मिलने की बाजार में चर्चा रही है, इसलिए सिक्कों की तलाश व खरीद करने वाले खरीददारों व दलालों की भी सूची बनाकर तलाश शुरू की जा रही है।

जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशों पर एक जांच टीम भी गठित की गई है जो सम्पूर्ण मामले की प्रारिम्भक स्तर से अपनी जांच शुरू कर सिक्कों के बारे में पूरी जानकारी हासिल करेगी तथा मामले में सिक्के खोजने वाले लोगों, दलालों, खरीददारों व खान के मालिक द्वारा तीन महिनें पूर्व जेसीबी से की गई खुदाई के बारे में जानकारी हासिल कर सभी सिक्कों को बरामद कर पुरातत्व विभाग को भेजा जाएगा।

इधर पुलिस द्वारा पिछले दो दिनों में की गई कार्रवाई जिसमें सिक्कों की बरामदगी, मौके पर पुलिस चौकी की अस्थायी स्थापना, पुरातत्व विभाग द्वारा मौके की जांच, जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा मामले में अपनायी गंभीरता के बाद से नाडी क्षेत्र में एक भी आदमी दिखाई नहीं देता है।

दलालों व खरीददारों में भी सिक्कों को लेकर हड़कम्प मचा हुआ है तथा एक-दूसरे से पुलिस का फोन आने के बारे में जानकारी प्राप्त करने में लगे हुए हैं। मामले में कई बड़े स्वर्णकार, दिल्ली तक के दलाल होने की भी शहर में चर्चा बनी हुई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।