धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

रविवार, 13 अगस्त 2017

उस IAS के लिये रो पड़ा बिहार और गुवाहाटी

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क (NNN): बक्सर के दिवंगत डीएम मुकेश पांडेय का पार्थिव शरीर कल गुवाहाटी लाया गया . जहां भूतनाथ मुक्ति धाम श्मशान घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया. मुकेश पांडेय के पार्थिव शरीर को उनके
चाचा वीरेश पांडेय ने मुखाग्नि दी. जैसे ही मुखाग्नि दी गई गुवाहाटी और बिहार के लोगों की आंखों से आंसू निकल पड़े.

अंतिम संस्कार के दौरान उनके परिजन रोये जा रहे थे. अपनों के बिछड़ जाने का गम उनके चेहरे से साफ झलक रहा था. मुकेश का अंतिम संस्कार हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार काफी सादगीपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ. अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए उनके पटना स्थित ससुराल पक्ष से ससुर, साला, पत्नी और उनके घर से पिता समेत सभी सगे संबंधी भी पहुंचे थे. उनके अलावा असम में रहने वाले हिंदी भाषी लोग भी आईएएस मुकेश पांडेय के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन को पहुंचे. हर किसी के जुबान पर एक ही बातें थी देश का एक होनहार अफसर दुनिया छोड़ गया. 
बता दें कि  आईएएस मुकेश पांडेय ने दिल्ली में ख़ुदकुशी कर ली थी. उन्होंने ख़ुदकुशी से पहले सुसाइड नोट और वीडियो भी जारी किया था. उन्होंने गाजियाबाद में ट्रेन से कट कर जान दे दी थी. पुलिस ने उनका शव गाजियाबाद स्टेशन से एक किलोमीटर दूर कोटगांव के पास रेलवे ट्रैक से बरामद किया था.
वर्ष 2012 बैच के आईएएस अधिकारी मुकेश कुमार पांडेय को 31 जुलाई, 2017 को बक्सर का जिलाधिकारी बनाया गया था. बतौर जिलाधिकारी यह उनकी पहली पदस्थापना थी. इसके पहले वह बेगूसराय के बलिया अनुमंडल में एसडीएम व कटिहार में डीडीसी के पद पर सेवा दे चुके थे. मुकेश मूलतः छपरा के रहनेवाले थे. 2012 में ऑल इंडिया में 14वीं रैंक लानेवाले मुकेश कुमार पांडेय की गिनती तेज तर्रार, बेदाग और कड़क अफसर के रूप में की जाती थी. उन्हें वर्ष 2015 में संयुक्त सचिव रैंक में प्रमोशन मिला था.

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

Gadget

यह सामग्री अभी तक एन्क्रिप्ट किए गए कनेक्शन पर उपलब्ध नहीं है.

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।