ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** ध्यान दें-- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप में प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. ***

शुक्रवार, 2 जून 2017

अब बिहार में हुआ नाश्ता घोटाला, दो समोसे की कीमत एक किलो चिकन से ज्यादा

बक्सर। आपने घोटाले तो कई तरह के सुने होंगे, जैसे चारा घोटाला, मिट्टी घोटाला, 2 जी स्‍पेक्‍ट्रम घोटाला, कोल गेट घोटाला, कॉमनवेल्‍थ घोटाला, मेरिट घोटाला। लेकिन बिहार में एक और घोटाला सामने आया है, वह है नाश्‍ता घोटाला। नाश्‍ता घोटाला में 2 समोसा 266 रूपये में खरीदा गया है। जो कि बाजार में महज 10 से 20 रूपये में मिल जाते हैं। बाजार की बात करें तो एक किलो चिकन की कीमत भी 266 रूपये से कम है, यानि इन दो समोसों की कीमत से कम है।

बक्सर के चौसा में बाल विकास परियोजना के अंतर्गत चल रहे प्रशिक्षण में आंगनबाड़ी सेविकाओं को 266 रुपये में दो समोसे दिए जा रहे हैं। हद तो यह कि इसका खुलासा होने के बाद बाल विकास परियोजना पदाधिकारी ने व्यवस्था में सुधार न कर व्यवस्था पर अंगुली उठाने वाली सेविकाओं से ही स्पष्टीकरण मांग दिया।

और तो और इस दौरान उन पर प्रशिक्षण में बाधा उत्पन्न करने और अनुशासनहीनता का अरोप भी लगाया गया। इधर, ढाई सौ से ज्यादा के खर्चे में केवल दो समोसे आने से सरकारी व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं और पूरे मामले की जांच की मांग शुरू हो गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार चौसा बाल विकास परियोजना पदाधिकारी ने स्पष्टीकरण में लिखा है कि आपको यदि कोई समस्या थी तो लिखित या मौखिक रूप से इसकी शिकायत पदाधिकारी से करनी चाहिए थी। उन्होंने सेविकाओं को इस कृत्य के लिए वरीय पदाधिकारी को प्रतिवेदित करने की चेतावनी दी है।

उधर, चौसा की सेविकाओं की प्रखंड अध्यक्ष रीता देवी ने बताया कि तीन दिवसीय प्रशिक्षण के दौरान सरकार ने मेनू निर्धारित कर रखा है। जिसके तहत उन्हें चाय-नाश्ता से लेकर दोपहर का भोजन व अन्य सामग्री उपलब्ध करानी है।

उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान कुल मिलाकर सेविकाओं पर 266 रुपये खर्च करने हैं। परन्तु यहां दो समोसे से ही काम चला दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सीडीपीओ से शिकायत के बावजूद व्यवस्था में सुधार नहीं होने पर मीडिया में इसकी शिकायत करने पर सीडीपीओ द्वारा फोन पर धमकी भी दी जा रही है।

श्रीमति रीता ने बताया कि सीडीपीओ उन्हें पोषाहार नहीं देने, मानदेय रुकवा देने से लेकर चयन मुक्त कर देने की धमकी दे रही हैं। इस बाबत सीडीपीओ से संपर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन बात नहीं हो सकी।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।