ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** ध्यान दें-- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप में प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. ***

गुरुवार, 18 मई 2017

दरभंगा और जोगबनी देश के सबसे गंदे स्टेशन?

नव-बिहार न्यूज नेटवर्क (NNN), नई दिल्ली।  आइआरसीटीसी द्वारा रेलवे स्टेशनों में साफ-सफाई की स्थिति के आधार पर कराए गए तीसरे सर्वे में आनंद विहार जम्मू तवी, लखनऊ तथा गोरखपुर स्टेशन को
देश के सबसे साफ-सुथरे स्टेशनों में माना गया है। विशाखापत्तनम और ब्यास देश के सर्वाधिक स्वच्छ स्टेशन हैं। जबकि दरभंगा और जोगबनी का शुमार सबसे गंदे स्टेशनों में किया गया है।
आइआरसीटीसी द्वारा कराए गए तीसरे सर्वे में, जिसे रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने यहां बुधवार को जारी किया, यह तथ्य उजागर हुआ है। इसमें ए1 श्रेणी के 75 तथा ए श्रेणी 332 स्टेशनों समेत कुल 407 रेलवे स्टेशनों को शामिल किया गया। इसी तरह की सर्वे अब ट्रेनों के बाबत भी किया जा रहा है। परिणाम जल्द घोषित किए जाएंगे।
इस सर्वे में देश की राजधानी दिल्ली के सबसे प्रमुख नई दिल्ली स्टेशन का ए1 स्टेशनों में 39वां स्थान पाया है। इससे उत्तर रेलवे की बड़ी फजीहत हुई है। नई दिल्ली से बेहतर स्थिति तो हजरत निजामुद्दीन व पुरानी दिल्ली स्टेशन की है जो क्रमश: 23वें एवं 24वें स्थान पर रहे हैं। आनंद विहार को भी पांचवां स्थान मिल गया है। जबकि तीसरा स्थान पाकर जम्मू तवी ने उत्तर रेलवे की इज्जत बचा ली है। लखनऊ को छठा, गोरखपुर को 12वां स्थान मिलने से पूर्वोत्तर रेलवे को राहत मिली है। परंतु तमाम प्रयासों के बावजूद प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को 14वां स्थान मिलने से उत्तर रेलवे की किरकिरी हुई है। पटना 28वें, हरिद्वार 30वें और आगरा 35 स्थान पर हैं। ए1 श्रेणी के स्टेशनों में दरभंगा, जबकि ए श्रेणी के स्टेशनों में जोगबनी का नाम लिस्ट में सबसे आखिरी है। ए श्रेणी के स्टेशनों में हिमाचल प्रदेश का ब्यास स्टेशन पूर्व की तरह पहले नंबर पर काबिज है।
इस सर्वे को आइआरसीटीसी के लिए क्वालिटी काउंसिल आफ इंडिया ने किया। जिसने रेलवे स्टेशनों की स्वच्छता को मापने के लिए टायलेट, पेयजल बूथ, खानपान स्टॉल, फूट ओवरब्रिज, पटरियों तथा कूडे़दानों के अलावा पार्किंग एरिया, प्रवेश द्वार तथा प्रतीक्षालय की स्वच्छता पर खास तौर पर गौर किया। सर्वे में स्वच्छता के लिए अपनाई जाने वाली प्रक्रियाओं के अलावा निरीक्षण के दौरान पाई गई स्थिति तथा यात्रियों की राय-सभी को अलग-अलग एक तिहाई वेटेज दी गई।
सुरेश प्रभु ने कहा कि हम सभी स्टेशनों को स्वच्छ देखना चाहते हैं। पिछले सर्वे के बाद कई स्टेशनों की हालत में सुधार देखने को मिला है।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।