ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** ध्यान दें-- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप में प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. ***

गुरुवार, 20 अप्रैल 2017

वीसी ने पूछा-प्राचार्य बताएं, शिक्षक कब आते और कब जाते हैं… 


नव-बिहार न्यूज नेटवर्क, भागलपुर। अब अंगीभूत कॉलेजों के प्राचार्यों को यह बताना होगा कि शिक्षक कितने बजे कॉलेज आए और कितने बजे लौटे। भागलपुर विश्वविद्यालय ने कॉलेज में शिक्षकों की पांच घंटे उपस्थिति अनिवार्य करते हुए यह निर्देश जारी किया है। बुधवार को अंगीभूत कॉलेज के प्राचार्यों के साथ बैठक में कुलपति प्रो. नलिनी कांत झा ने कहा कि केवल यह रिपोर्ट देना काफी नहीं है कि शिक्षक कॉलेज आए थे। इस तरह की रिपोर्ट से यह पता नहीं चलता है कि शिक्षक पांच घंटे कॉलेज में रुके या नहीं। इसलिए अब विश्वविद्यालय को कॉलेजों से प्रत्येक दिन यह रिपोर्ट चाहिए कि शिक्षक कितने बजे कॉलेज और उन्होंने कितने बजे कॉलेज छोड़ा।
प्राचार्यों को यह निर्देश भी दिया गया कि शिक्षकों और कर्मचारियों की सेवानिवृत्त के तीन महीने पहले उनकी पेंशन से जुड़ी फाइल विश्वविद्यालय को भेज दी जाए। समय से फाइल मिलने पर पेंशन और सेवांत लाभ की प्रक्रियाएं पूरी कर सेवानिवृत्ति के दिन इसका लाभ शिक्षकों और कर्मचारियों को दिया जा सकेगा। प्राचार्यों को पेंडिंग रहित रिजल्ट के लिए भी निर्देश दिए गए। उन्हें बताया गया कि प्राचार्य खुद और वीक्षक के माध्यम से यह सुनिश्चित करेंगे कि छात्र कॉपी पर रोल नंबर, पंजीयन संख्या, विषय का नाम और दूसरी जरूरी जानकारियां सही भरें। परीक्षा या मूल्यांकन के बाद कापियां क्रमबद्ध तरीके से रखे जाएं और इसी तरह टेबुलेशन के लिए उपलब्ध कराए जाएं।
अंगीभूत कॉलेजों के प्राचार्यों के बाद संबद्ध कॉलेजों के प्राचार्यों के साथ भी बैठक हुई उन्हें निर्देश दिया गया कि जिन विषयों में संबंधन प्राप्त है उसी में दाखिला लें। छात्र का दाखिला जिस विषय में हो, पंजीयन भी उसी में कराया जाए और जितनी सीटें निर्धारित हैं, उतने पर ही दाखिला लें। नियमितीकरण होने की बात कह कर कुलपति ने निर्देश दिया कि अब संबद्ध कॉलेजों में भी कक्षा और गुणवत्तापूर्ण पढा़ई पर ध्यान दिया जाए। इसके अलावा गर्मी की छुट्टी में होने वाली स्नातक पार्ट-थ्री की परीक्षा में संबद्ध कॉलेजों के शिक्षकों को भी सहयोग करने को कहा गया।

साभार- कुमार आदित्य

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।