धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

मंगलवार, 28 फ़रवरी 2017

रेलवे ने कर दी कोक और पेप्सी की छुट्टी

मुंबई। । खामियों पर रेलवे ने कर दी कोक और पेप्सी की छुट्टी ।  भारतीय रेलवे की वेस्टर्न रेलवे जोन ने अपने अधिकार क्षेत्र के 300 रेलवे स्टेशनों पर कोकाकोला और पेप्सी को प्रतिबंध कर दिया है। नियमानुसार रेलवे स्टेशन पर कोला बेचने के लिए हेल्थ डिपार्टमेंट से प्रमाण पत्र लेना होता है। जोकि इन स्टेशनों पर स्थित कैटरिंग कंपनियों ने नहीं लिया था। वेस्टर्न रेलवे के अस्सिटेंट जनरल मैनेजर सचिन शुक्ला के मुताबिक जब तक कंपनियों को सर्टिफिकेट नहीं मिल जाता है, तब इन सभी स्टेशनों पर कोक औप पेप्सी की बिक्री बैन रहेगी।

केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते द्वारा लोकसभा एक सवाल के जवाब में बताया गया था कि कोल्ड ड्रिंक्स में धातु सामग्री जैसे कैडमियम और क्रोमियम पाया जाता है। जिसके बाद यह फैसला लिया गया है। सचिन शुक्ला ने बताया कि कंपनियों की पुरानी अनुमति खत्म हो गई है अगर वे स्टेशन पर दोबारा से कोक और पेप्सी बेचना चाहते है तो उन्हें फिर से अनुमति लेनी होगी। जब इऩ कैटर्स तो फिर से हेल्थ डिपार्टमेंट से परमिशन नहीं मिलती है तब तक कोल्ड ड्रिंक पर बैन रहेगी।

जिन ड्रिंक्स को बैन किया गया है, उनमें पेप्सी, कोका कोला, स्प्राइट, 7अप और माउंटेन ड्यू शामिल है। वेस्टर्न सेंट्रल रेलवे की ओर से अधिकारियों को स्टेशनों पर इन कोल्ड ड्रिंक्स भी ब्रिक्री जल्दी से जल्दी रोकने के निर्देश दिए गए हैं।वेस्टर्न सेंट्रल रेलवे के अधिकार क्षेत्र में भोपाल, जबलपुर और कोटा डिवीजन आते हैं। कोटा और भोपाल डिवीजन को इसके आदेश भेजे जा चुके हैं। यह आदेश सिर्फ रेलवे कैंटीन और स्टॉल पर लागू होंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।