ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** ध्यान दें-- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप में प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. ***

शनिवार, 31 दिसंबर 2016

बिहार की पहली घटना : आखिर कौन फेंक गया एक लाख के पुराने नोट

गोपालगंज : आखिर कौन फेंक गया 500 के पुराने नोटों को. ये नोट लगभग एक लाख मूल्य के हैं. ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि आखिर ये नोट कहां से आये? इन नोटों के फेंकने के पीछे किनकी शैतानी चाल है? इन सवालों पर पुलिसिया मंथन शुरू हो गया है. जांच कर रही है, लेकिन इस रहस्य का खुलासा हो पायेगा. पुलिस उन कालेधन वालों के पास पहुंच पायेगी, ये सवाल भी अभी अनुत्तरित हैं. सबसे बड़ी बात है कि यह बिहार की पहली घटना है.

नोट बरामदगी के बाद खंगालने में जुटी पुलिस

बैकुंठपुर के भगवानपुर से पुलिस द्वारा बरामद किये गये बड़े पैमाने पर 500 के नोट के बाद पुलिस जमाखोरों को खंगालने में जुटी हुई है. वहीं अज्ञात पर मामला दर्ज कर पुलिस ने अपना अनुसंधान जारी कर दिया है. पुलिस की मानें तो कई बिंदुओं पर मामले की छानबीन की जा रही है. हालांकि पुलिस अभी इस मामले में खुलासा से पहले कोई पत्ता खोलना नहीं चाह रही है. बैकुंठपुर के एसएचओ इंद्रजीत कुमार की मानें तो नोटों को जब्त कर उसकी जांच की जा रही है. जल्द ही मामले का खुलासा हो जायेगा.

क्या है मामला

गौरतलब है कि गुरुवार को बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के भगवानपुर गांव के पास स्थित एक चंवर से उस समय बरामद किया गया था, जब गांव के बच्चे वहां खेलने पहुंचे. सारे नोट एक बैग में भरे पड़े थे. बच्चों ने नोटों को देख कर इसकी सूचना अपने परिजनों को दी. इसके बाद परिजनों से बैकुंठपुर थाने को मामले की जानकारी हुर्ह. लोगों की मानें तो प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि किसी जमाखोरों के पास ज्यादा मात्रा में 500 के नोट बचे हुए थे तथा वह उसे ठिकाने नहीं लगा पाया. इसकी वजह से वह नोट को ठिकाने लगाने के लिए वहां फेंक दिया.

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।