ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** आपके लगातार सहयोग से पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 9 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। ताजा समाचार *** नवगछिया- गोसाईंगांव के पास नदी में डूबने से एक की मौत, लाश नहीं हुई बरामद, सिंघिया मकंदपुर निवासी अरुण साह का पुत्र राहुल कुमार के नाम की है चर्चा *** ***

शनिवार, 3 जून 2017

नवगछिया एसडीओ शुरू करेंगे अनूठी पहल: +2 के छात्रों को देंगे विशेष सलाह

नवगछिया (भागलपुर) : शिक्षा को लेकर बिहार की लगातार हो रही किरकिरी किसी को अच्छी नहीं लग रही है। इसे दूर करने के एक प्रयास को लेकर नवगछिया में पदस्थापित अनुमंडल पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश जो भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं, ने एक अनूठी पहल शुरू करने की सोच रहे हैं। जिसके तहत नवगछिया अनुमंडल में +2 की शिक्षा के बाद छात्र क्या करें, इसका मार्ग दर्शन करने के लिए एसडीओ डॉ आदित्य प्रकाश ने सप्ताह में दो दिन किसी न किसी शिक्षण संस्थान में स्वयं विशेष क्लास लेने का निर्णय लिया है।

छात्रों को शिक्षा के लिए करेंगे प्रेरित
एसडीओ डॉ आदित्य प्रकाश ने बताया कि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले, इसके लिए अब नवगछिया अनुमंडल में किसी न किसी सरकारी, निजी स्कूलों व कोचिंग संस्थानों में हर हफ्ते शनिवार व रविवार को छात्रों को इसकी खास जानकारी देंगे। इस दौरान छात्र-छात्रओं को लक्ष्य निर्धारित कर उसके अनुरूप मेहनत करने की सलाह दी जाएगी तथा असफलता से न घबराते हुए लगातार प्रयास करने के लिए छात्रों को प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस प्रोत्साहन कार्य में अन्य सरकारी अधिकारियों को भी जोड़ेंगे।

इससे न केवल छात्र-छात्रओं में आत्मविश्वास का संचार होगा बल्कि वहां करियर काउंसिलिंग भी होगी। इस पहल से सभी विद्यालयों में गुणात्मक सुधार भी आएगा। एसडीओ डॉ आदित्य प्रकाश ने बताया कि इस  शिक्षण कार्य में उनका मुख्य फोकस दसवीं, ग्यारहवीं व बारहवीं के छात्र-छात्रओं पर होगा। क्योंकि यहीं से युवाओं के सुधरने व बिगड़ने का रास्ता तय होता है। नवगछिया अनुमंडल के अधिकतर छात्र दसवीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़कर घर पर बैठ जाते हैं या कमाने के लिए परदेश चले जाते हैं। बेरोजगारी व पैसे की जरूरत उन्हें आगे चलकर अपराध के दलदल में धकेल देती है। इन्हें सही रास्ता दिखाना हमारा दायित्व है। एसडीओ का मानना है कि स्कूलों में लगातार दौरा करने से छात्रों की उपस्थिति, शिक्षकों की उपस्थिति एवं मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धत भी सुनिश्चित की जा सकेगी।

पटना में की थी इसकी शुरुआत
2014 बैच के आइएएस अधिकारी डॉ. आदित्य प्रकाश नवगछिया आने से पहले पटना में पर्यटन विभाग में सचिव के पद पर कार्यरत थे।वहां भी शिक्षण संस्थानों में समय निकालकर छात्र-छात्रओं की विशेष क्लास लेते थे। इसके लिए उन्होंने एनईसीएस (नेशनल एकेडमी सिविल सर्विसेज एसोसिएशन) का भी गठन किया था, इसमें रेलवे के जीएम एस नाथ सहित कई सरकारी अधिकारियों को जोड़ा था। सभी अधिकारी अपने व्यस्त कामकाज से समय निकालकर किसी न किसी शिक्षण संस्थानों में छात्र-छात्रओं को पढ़ाते थे। इसी तरह नवगछिया में भी शिक्षण संस्थानों में विशेष क्लास लेने के लिए सरकारी अधिकारियों को जोड़ेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।