धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

गुरुवार, 8 सितंबर 2016

नवगछिया में बिजली की स्थिति हुई बद से बदतर


नवगछिया, भागलपुर (नवबिहार न्यूज़ नेटवर्क) । नवगछिया अनुमंडल में गंगा नदी की बाढ़ क्या आ गई नवगछिया नगर में बिजली की स्थिति बद से बदतर हो गई। लगभग 2 सप्ताह से रात को अंधेरे के आगोश में
डूबा रहता है पूरा नवगछिया नगर। पूरे नवगछिया नगर में रात की जगह दिन के कुछ एक घंटे बिजली की आपूर्ति कर विभाग द्वारा उपभोक्ताओं के मुंह पर ताला लगाया जा रहा है। लेकिन लो वोल्टेज की वजह से इन उपभोक्ताओं के मोबाइल तक सही ढंग से चार्ज नहीं हो पाने के कारण नवगछिया नगर के उपभोक्ता आंदोलन करने को उतावले हो रहे हैं।
क्या है ताजा स्थिति
बुद्धवार 7 सितंबर की शाम लगभग 7:00 बजे से ही गायब बिजली के 15 घंटे बीतने पर भी अबतक कोई ठिकाना नजर नहीं आ रहा है।
क्यों है ऐसी स्थिति
जानकारी के अनुसार विद्युत आपूर्ति अवर प्रमंडल नवगछिया के सहायक अभियंता बाढ़ आने के साथ ही छुट्टी पर चले गए हैं। जबकि बाढ़ के दौरान सभी विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द घोषित की गई है। इसके बावजूद भी सहायक अभियंता अपना प्रभार कनीय अभियंता को देकर आकस्मिक चिकित्सीय अवकाश पर चले गए हैं। इधर स्थिति यह है कि कनीय अभियंता की पकड़ क्षेत्रीय कर्मचारियों और विभागीय मानव बल पर उतनी ज्यादा नहीं होने की वजह से बिजली की स्थिति नवगछिया में बद से बदतर हो चुकी है।
क्या है वजह
गंगा में आई बाढ़ के कारण नवगछिया बिजली कार्यालय और विद्युत शक्ति उपकेंद्र दोनों जलमय हो गए हैं। लेकिन पिछले 2 दिनों से पानी के रफ्तार में कमी ही आई है । इसके बावजूद नवगछिया नगर को बगल के रंगरा विद्युत शक्ति उपकेंद्र से मदरौनी के रास्ते बिजली आपूर्ति की जा रही है। वह भी सिर्फ दिन में कुछ एक घंटों के लिए।
क्या है इसका असर
अपराध प्रभावित नवगछिया नगर के उपभोक्ताओं, एटीएम, राहगीरों और रेल यात्रियों को रात के अंधेरे में ही समय गुजारना पड़ता है। इस दौरान कभी भी किसी भी तरह की बड़ी घटना के होने की आशंका बनी रहती है। जिसके भय से नगरवासी हमेशा भयभीत रहते हैं। यही कारण है कि बिजली नहीं रहने की वजह से नवगछिया बाजार भी सरे शाम बंद होने को मजबूर है। बाजार के सारे व्यवसायी शाम को ही अपना कारोबार समेट कर घरों में दुबक जाते हैं। जिसका प्रतिकूल प्रभाव नवगछिया बाजार के व्यापार पर पढ़ रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।