धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

मंगलवार, 26 अप्रैल 2016

अवैध शराब निर्माण पर मिलेगा मृत्युदंड

बिहार सरकार जल्द ही एक ऐसा विधेयक पेश करने जा रही है जिसमें अवैध शराब बनाने वालों को मृत्युदंड का प्रावधान किया जाएगा। एक अप्रैल से बिहार में शराब पर पाबंदी लगने के बाद यह कानून भी लागू हो जाएगा।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस ऐलान के बाद बिहार में अवैध शराब बनाने वालों के बुरे दिन आने वाले हैं। सरकार ने आगामी विधानसभा बजट सत्र में इस विधेयक को पेश करने की घोषणा की है। नीतीश सरकार ने हाल में यह घोषणा की थी कि 1 अप्रैल से बिहार में शराब पर पाबंदी लगा दी जाएगी।

सरकार ने यह पाबंदी केवल देशी शराब और भारत में बनने वाली विदेशी शराबों के ऊपर ही लगाया है। इस पाबंदी के बाद शराब बेचने वाली सभी दुकानों को सरकार ने सुधा दूध और उसके उत्पाद बेचने का विकल्प दिया है।

शराब की जगह बेचें दूध

नीतीश कुमार ने बताया, 'अधिकारियों ने मुझे बताया, पूरे राज्य से उनके पास अब तक ऐसे 200 आवेदन आए हैं जो शराब की जगह सुधा दूध के उत्पाद बेचना चाहते हैं।' सुधा डेयरी बिहार सरकार द्वारा संचालित किए जाने वाले राज्य दुग्ध सहकारी निगम का एक उत्पाद है जिसे 'सुधा दूध' के नाम से जाना जाता है।

उन्होंने बताया कि राज्यभर में शराबियों से शराब छोड़ने के लिए प्रेरित करने की दिशा में प्रचार अभियान भी चलाए जा रहे हैं। इसके लिए 40 लाख से ज्यादा स्वयंसेवक घर घर जाकर लोगों से शराब छोड़ने के लिए प्रेरित कर रहे हैं और उनको जागरूक भी कर रहे हैं।

इसके अलावा राज्य के करीब 72 हजार स्कूलों को यह निर्देश दिए गए हैं कि वे स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों के परिजनों से यह लिखित रूप में ले लें की वे शराब को हाथ भी नहीं लगाएंगे। नीतीश ने यह भी बताया कि अधिकारी ऐसे शराबियों की पहचान कर उनका ईलाज भी कराएंगे जो इसके आदती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।