धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

मंगलवार, 26 अप्रैल 2016

बिहार सरकार के दामाद बने हैं कुछ कर्मचारी

बिहार सरकार के दामाद बने हैं कुछ कर्मचारी
भागलपुर, नवबिहार न्यूज नेटवर्क। बिहार सरकार भले ही कितनी दुरुस्त क्यों न हो, लेकिन हर क्षेत्र में पदस्थापित इसके कुछ कर्मचारी बिलकुल दामाद की तरह
शान से आनाजाना करते हैं। वह भी पदस्थापन जगह से काफी दूर अपने आवास से आनाजाना करते हैं। जबकि सरकार के नियमानुसार अपने मुख्यालय से मात्र आठ किलोमीटर के दायरे में आवास रखना है, लेकिन ये सरकारी दामाद बाबू पच्चीस से साठ किलोमीटर की रोजाना यात्रा करके अपनी ड्यूटी बजाने की औपचारिकता पूरी करते हैं।
इसका आसान उदाहरण नवगछिया स्टेशन और कचहरी परिसर एवं अनुमंडलीय अस्पताल में रोजाना देखा जा सकता है। जहां कचहरी परिसर में कार्यरत कई कर्मी और अधिकारी रोजाना नवगछिया से तीस किलोमीटर दूर भागलपुर से आते और जाते हैं। यही हाल अनुमंडलीय अस्पताल में पदस्थापित पदाधिकारियों का भी नजर आता है। जो अपने वाहन से अक्सर अपने निर्धारित समय से विलम्ब से पहुँच पाते हैं।
इन सबसे अलग सर्व विदित कहानी है नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी की। जो रोजाना साठ किलोमीटर दूर कटिहार से आते और जाते हैं, वह भी ट्रेन से। साथ ही  मजे की बात तो यह भी है कि नगर पंचायत कार्यालय से स्टेशन तक रोजाना आने और जाने के लिये विभागीय वाहन का ही इस्तेमाल किया जाता है। जबकि इनके लिये अनुमंडल मुख्यालय में भी एक आवास आबंटित है। जहां कभी ट्रेन छूट गयी या किसी आवश्यक कार्य से रुकना हो तभी व्यवहार किया जाता है। स्पष्ट है कि जहां बिहार सरकार के मुखिया दिन रात जनता की सेवा में लगे रहते हैं। वहीँ ये कुछेक पदाधिकारी अपनी ऐशो आराम की जिंदगी से महज ड्यूटी भर निभा देते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।