धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शुक्रवार, 11 मार्च 2016

पचास हजार का इनामी अपराधी नवगछिया से गिरफ्तार

पूर्णिया थाना से फरार विधायक पति अवधेश मंडल की नवगछिया से गिरफ़्तारी के बाद एक और बड़ी गिरफ़्तारी नवगछिया क्षेत्र से दूसरे जिले की पुलिस द्वारा की गयी। स्पष्ट है कि कितनी संवेदन हीन साबित हो रही है नवगछिया की पुलिस।
14वर्षों से फरार इनामी अपराधी नागो उर्फ नागेश्वर मंडल को पटना एसटीएफ की टीम ने गुरुवार को नवगछिया इलाके से गिरफ्तार किया है। पुलिस मुख्यालय की ओर से नागो पर 50 हजार इनाम घोषित है। पटना से आए एसटीएफ स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप-1 की टीम ने नवगछिया में छापेमारी कर दियारा के आतंक नागो मंडल को गिरफ्तार करने में सफलता पाई। इसमें भागलपुर पुलिस ने भी सहयोग किया। 

नागो मंडल इलाके का कुख्यात अपराधी है। एसटीएफ एसपी शिवदीप लांडे के निर्देश पर पटना से गुरुवार को एसटीएफ दारोगा अमरेंद्र किशोर के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम नवगछिया गई थी। गिरफ्तारी के बाद उसे भागलपुर के कोतवाली थाने में लाकर रखा गया। भागलपुर के कोतवाली थाने में कई थानों की पुलिस ने उससे पूछताछ की। 

भागलपुर के बुद्धूचक थाना अंतर्गत रानीदियारा गांव का रहनेवाला अपराधी नागो मंडल 12 से अधिक मामलों में नामजद है। भागलपुर और नवगछिया जिलाें की पुलिस उसके खिलाफ दर्ज मामलों की पड़ताल कर रही है। एसटीएफ, भागलपुर और नवगछिया की पुलिस नागो मंडल से उसके हथियारों के बारे में जानकारी जुटा रही है। भागलपुर पुलिस के सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तार अपराधी दियारा का आतंक था और स्थानीय अंडरवर्ल्ड में दियारा का राजा भी कहा जाता था। 14 साल पहले उसने पहली हत्या की थी और तबसे अब तक फरार था। चार पुलिस थानों में उसके खिलाफ 12 से अधिक मामले दर्ज हैं। स्थायी फरारी नागो मंडल के मामलों से जुड़े कागजात खोजने में भी पुलिस को ख़ासी मशक्कत करनी पड़ी। 15 साल से लगातार फरार होने के कारण उसके खिलाफ दर्ज मामलों से जुड़े अभिलेख खंगाले गए। 

वर्चस्व के लिए बैकू मंडल की हत्या कर नागो बना था अपराधी

भागलपुरके रानी दियारा में वर्चस्व जमाने की होड़ में नागो मंडल ने 15 साल पहले अपने ही ग्रामीण बैकू मंडल की हत्या कर दी थी। बैकू मंडल की हत्या के पीछे आपराधिक वर्चस्व कायम करना था, लेकिन पूछताछ में उसने आपसी विवाद को बैकू की हत्या का कारण बताया है। बैकू मंडल की हत्या के एक साल बाद उसने अरविंद पासवान की हत्या कर दी। अरविंद पासवान भी रानी दियारा का ही रहनेवाला था। दो हत्याओं के बाद रानी दियारा में इसका आतंक फैल गया था और उसको चुनौती देनेवाला कोई नहीं बचा था। हत्या के अलावा रंगदारी, लूट की घटनाओं को अंजाम देना और दियारा की जमीन पर जबरन कब्जा कर खेती करने लगा। मछली मरवाने से भी उसको आय होने लगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।