धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

मंगलवार, 30 मई 2017

डीआइजी विकास वैभव ने थानेदारों से पूछा, काम करना है या निलंबित होना है


नव-बिहार न्यूज नेटवर्क, भागलपुर। डीआइजी विकास वैभव ने सोमवार को शहर के सभी थानेदारों, इंस्पेक्टर और डीएसपी के साथ अपने कार्यालय में बैठक की। इसमें उन्होंने सभी थानेदारों को दो टूक कहते हुए चेताया है कि यदि आप लोग सही काम करेंगे तो ठीक, अन्यथा आप पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए आप तैयार रहें। इतनी कार्रवाईयों के बाद भी आपकी लगातार शिकायतें आ रही है। उन्होंने थानेदारों को कहा है कि वे अपनी कार्यशैली में सुधार लाएं। अभी संभलने का मौका दिया जा रहा है।

थानेदारों को लगायी फटकार

थानेदारों को कड़ी फटकार लगाते हुए डीआइजी ने कहा कि पदभार ग्रहण करने के साथ ही उन्होंने पत्र जारी किया। जिसमे पाच बिंदुओं पर काम करने का निर्देश दिया गया था। उन्होंने कहा कि थानेदारों को जनहित के कार्य में दो कदम बढ़ कर पहल करनी चाहिए। डीआईजी ने कहा कि थानेदार और थाने के अफसर निष्पक्ष होकर काम करें। किसी से प्रभावित होकर या लापरवाहीपूर्वक काम करने की शिकायत मिलेगी तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसी पीड़ित को यदि वरीय अधिकारी आपके पास भेजते हैं तो उसपर संज्ञान लेकर तुरंत बात सुनिए।

पिड़ित को न्याय दिलाने के लिए रहें प्रतिबद्ध

डीआइजी ने कहा कि हो सकता है कि कई मामलों में लोग झूठ बोलकर मामला दर्ज कराने आए। मगर इस परिस्थिति में भी घटना की सच्चाई पता करके रिपोर्ट तैयार कीजिए ताकि झूठे लोगों को बोलने को किसी तरह का मौका नहीं मिले। उन्होंने कहा कि आपको पीड़ित को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध होना चाहिए। उन्होंने डीएसपी को भी थाने की मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया। बैठक शुरू होने से पहले डीआईजी ने जिले के थानेदार और इंस्पेक्टर का परिचय लिया।

थानों में बढ़ेगी तो कोर्ट में घटेगी केस की संख्या

उन्होंने कहा कि लोग कोर्ट में नालिसी की संख्या में काफी कमी आयी होगी। जब थाने में पीड़ित को इंसाफ नहीं मिलता है तब वे न्यायालय की शरण में जाते हैं। थानेदारों ने अपनी समस्या बताते हुए कहा कि सभी थाने में दो-तीन गुना केस बढ़ गया है। इस पर उन्होंने कहा कि जल्द सब कुछ ठीक हो जाएगा। डीआईजी ने कहा कि मंगलवार को नवगछिया और बुधवार को बाका में थानेदारों के साथ बैठक की जाएगी। बैठक में सिटी डीसपी शहरयार अख्तर, डीएसपी विधि व्यवस्था राजेश सिंह प्रभाकर और डीएसपी कहलगाव रामानंद कौशल के अलावा इंस्पेक्टर व थानेदार उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।