ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** ध्यान दें-- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप में प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. ***

बुधवार, 24 मई 2017

नवगछिया में हुई खगड़िया के शिक्षक की हत्या, जांच में जुटी पुलिस

नव-बिहार समाचार, नवगछिया (भागलपुर)। नवगछिया पुलिस जिला के खरीक थाना क्षेत्र अंतर्गत नवादा बाजार के समीप बुद्धवार की दोपहर बाइक सवार अपराधियो ने बहतरा निवासी शिक्षक विजय कुमार मंडल उर्फ़ संदीप कुमार की गोली मार कर उस समय हत्या कर दी जब मृतक मध्य विद्यालय खजरैठा (खगड़िया) से बाइक द्वारा अपने घर बहतरा जा रहा था। मौके पर एसडीपीओ समेत कई थाने की पुलिस पहुँच कर मामले की जांच में जुटी है।


जानकारी के अनुसार नवगछिया पुलिस जिला अंतर्गत जाह्नवी चौक-लत्तीपुर सड़क पर नावादा बाजार के समीप बुधवार को अपराधियों ने शिक्षक विजय कुमार मंडल उर्फ संदीप की गोली मारकर हत्या कर दी। वह खगड़िया जिले के मध्य विद्यालय खजरैठा में कार्यरत थे और स्कूल से बाइक से लौट रहे थे। 

दोपहर करीब 12:30 बजे घात लगाए बैठे तीन अपराधियों ने सीने में गोली मार दी, जिससे मौके पर ही मौत हो गई। भुवनेश्वर मंडल के बेटे संदीप की वर्ष-2015 में ही उनकी नौकरी लगी थी और उनकी इकलौती बहन भी मधेपुरा में शिक्षक हैं, जिनकी कुछ माह पहले ही संदीप ने बड़ी धूमधाम से शादी की थी। 


परिजन जमीन विवाद में हत्या की बात कह रहे हैं, जबकि पुलिस अभी कुछ भी स्पष्ट करने से इनकार कर रही है। एसडीओपी मुकुल कुमार रंजन व इंस्पेक्टर अजय कुमार पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लेकर संदीप के मोबाइल को कब्जे में लिया है। अब उसकी कॉल डिटेल्स खंगाली जाएगी। 


शादी की चल रही थी बातचीत : संदीप के दोस्त पंकज कुमार, हीरालाल, विनोद कुमार ने बताया कि संदीप एक मिलनसार व्यक्ति थे। कभी किसी से विवाद करते नहीं देखा था। उनकी शादी की कई जगह बातचीत चल रही थी। 


22 डिसमील जमीन को लेकर पड़ोसी से था विवाद 
मृतक के छोटे भाई विभीषण कुमार ने बताया कि संदीप की किसी से व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं थी। पड़ोसी ललित नारायण मंडल से गांव की ही 22 डिसमिल जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। यह जमीन ललित मंडल के ही कब्जे में है। ललित ने फर्जी तरीके से जमीन का पर्चा कटा लिया है। इसी मसले पर छह माह पूर्व मारपीट भी हुई थी। इसके बाद से केस उठाने के लिए बार-बार धमकी दी जा रही थी। 

मुकुल कुमार रंजन, एसडीपीओ ने बताया कि हत्या के बारे में परिजन कुछ स्पष्ट नहीं कह पा रहे हैं। परबत्ता थाने में जमीन विवाद के एक मामले में संदीप अभियुक्त थे। जांच के बाद ही हत्या के कारणों के बारे में कहा जा सकेगा। 
 
बातचीत में उलझाकर गोली मारी
एक बाइक पर आए तीन अपराधी घात लगाए बैठे थे। संदीप जैसे ही करीब आए, उन्होंने रुकने का इशारा किया और बातचीत के दौरान ही गोली मारकर सभी अपराधी फरार हो गए। वे तीन भाई और एक बहन में से एक थे। घटना के बाद  बीडीओ संतोष कुमार मिश्र, सीओ निलेश कुमार चौरसिया, नवगछिया थानाध्यक्ष संजय कुमार सुधांशु, खरीक थानाध्यक्ष जेपी सिंह, परबत्ता थानाध्यक्ष ओमप्रकाश दुबे ने भी घटनास्थल का जायजा लिया। 


 भागलपुर में होगा पोस्टमार्टम
शव को पोस्टमार्टम के लिए नवगछिया अनुमंडल अस्पताल भेजा गया, लेकिन गोली कहां फंसी है,  इसका पता नहीं चलने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर भेज दिया गया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।