ब्रेकिंग न्यूज

*** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** आपके लगातार सहयोग से पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए 9 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। ताजा समाचार *** नवगछिया- गोसाईंगांव के पास नदी में डूबने से एक की मौत, लाश नहीं हुई बरामद, सिंघिया मकंदपुर निवासी अरुण साह का पुत्र राहुल कुमार के नाम की है चर्चा *** ***

गुरुवार, 23 फ़रवरी 2017

जमीन और घर हड़पने के लिये भतीजे ने की चाचा और चाची की हत्या

नवगछिया: नवगछिया पुलिस जिला के आदर्श थाना नवगछिया क्षेत्र के उजानी गांव में एक भतीजे ने जमीन और घर हड़पने के लिये सारे मानवीय संबंधों को तार तार करते हुए अपने ही सगे नेत्रहीन चाचा और चाची की निर्ममता से हत्या कर दी. मृतक उजानी निवासी मो दुक्खन 55 वर्ष, अंजुम खातून 45 हैं. अंजुम खातून की मौत मौके पर ही हो गयी तो गंभीर रुप से घायल मो दुक्खन को इलाज के लिए अनुमंडल अस्पताल लाया गया जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए जेएलएनएमसीएच भागलपुर रेफर कर दिया. लेकिन भागलपुर ले जाने के क्रम में रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी है. इधर घटना के बाद उजानी गांव पहुंची पुलिस ने तीनों नामजद आरोपी मो फैयाज 20, उसके पिता मो मकसूद और अंगूरी बेगम को गिरफ्तार कर लिया है. दोनों शवों के पोस्टमार्टम के लिए नवगछिया अस्पताल लाया गया था. देर रात ही नवगछिया थाना में प्राथमिकी दर्ज करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी थी.

जानकारी मिली है कि मो दुक्खन और अंजुम खातून का घर कब्जा करने के लिए मो दुक्खन के बड़े भाई मो मकसूद के पुत्र मो फैयाज ने घटना को अंजाम दिया. बुधवार को दोनों पक्षों के बीच किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था. इसी बीच मो फैयाज उग्र हो गया और क्रिकेट खेलने वाले बल्ले से फैयाज ने दोनों की पिटाई शुरू कर दी.

बल्ले के जोरदार प्रहार से पति पत्नी अपने घर में ही घायल होकर गिर गये. इसके बाद एक धारदार हथियार से फैयाज ने अंजूम खातून का गला रेत कर मारा डाला. इसके बाद फैयाज मो दुक्खन के गले को रेत दिया. इसी बीच स्थल पर आ जुटे ग्रामीणों को देख फैयाज भाग खड़ा हुआ. ग्रामीणों ने देखा कि अंजुम खातून की मौत हो गयी और मो दुक्खन की सांस चल रही है. ग्रामीण स्तर से दुक्खन को इलाज के लिए नवगछिया अनुमंडलीय अस्पताल लाया गया जहां से उसे रेफर किया गया और भागलपुर अस्पताल जाने के क्रम में रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी.

ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार फैयाज ने घटना को अंजाम देने के बाद छत पर जा कर बैठ गया और अपने खून से सने कपड़े को बदल कर छुपा लिया. इसके बाद पहुंची पुलिस ने फैयाज समेत अन्य दो को गिरफ्तार कर लिया और उसके खून से सने कपड़े, हत्या में प्रयुक्त धारदार हथियार और क्रिकेट के बल्ले को पुलिस ने जब्त कर लिया है. घटना की सूचना मिलते ही स्थल पर नवगछिया के एसडीपीओ मुकुल कुमार रंजन दल बल के साथ पहुंच कर मामले की सघन छानबीन की है.

जानकारी मिली है कि मो दुक्खन और उसके दो अन्य भाई मो मकसूद, मो चुल्हो के बीच विगत वर्षों ही बंटवारा हो गया था. बंटवारे के बाद अन्य दो भाई व उसके परिजनों के आंखों में मो दुक्खन खटक रहे थे. इसी बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद होना आम बात हो गयी थी. दुक्खन पूर्व में चालक था. जब दुक्खन के आंखों की रौशनी चली गयी तो वह फल का व्यवसाय करने लगा. उसके तीन छोटे छोटे पुत्रों की परवरिश कर रहा था.

ग्रामीणों ने बताया कि दुक्खन को एक छः वर्षीय पुत्र भी पिछले दो माह पहले रहस्यमय तरीके से गयाब है. जिसका कोई अता पता नहीं चला. पुलिस स्तर से मामले की छान बीन के लिए फोरेंसिक टीम से भी संपर्क किया गया है. गुरुवार की सुबह तक फोरेंसिक टीम के उजानी गांव आने की संभावना है. इधर दुखन व उनकी पत्नी अपने पीछे दो छोटे छोटे पुत्रों मो रेहान08, मो इशाक04 को बेसहारा छोड़ गये हैं.

इस दोहरे हत्याकांड के मामले में नवगछिया के एसपी पंकज सिंहा ने कहा कि जमीन विवाद में दोनों पक्षों के बीच मारपीट हुई थी. जिसमें दोनों की मौत हो गयी. मामले में सभी नामजद लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. प्रयुक्त हथियारों व आरोपी के खून से सने कपड़ों को बरामद कर लिया गया है. मामले की जांच के लिए फोरेंसिक टीम को बुलाया जा रहा है.

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।