धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

सोमवार, 14 नवंबर 2016

अब बदल सकेंगे 4500 रुपये, ATM की लिमिट 2000 से बढकर हुई 2500 रुपये

रिजर्व बैंक ने 500 रुपये का नया नोट भी जारी कर दिया है और इसकी आपूर्ति देशभर की बैंक शाखाओं में की जा रही है।
नई दिल्ली। पांच सौ और एक हजार रुपये के नोट बंद करने के बाद सरकार ने आम लोगों को नकदी मुहैया कराने को एक बैंक खाते से एक दिन में अधिकतम 10,000 रुपये निकासी की सीमा खत्म
कर दी है। पुराने नोट बदलने की सीमा भी 4,000 रुपये से बढ़ाकर 4,500 रुपये कर दी है। वहीं एटीएम से भी लोग एक दिन में अधिकतम 2,000 रुपये की जगह 2500 रुपये निकाल सकेंगे।
साथ ही अब एक सप्ताह में एक बैंक खाते से अधिकतम 24,000 रुपये निकाल सकेंगे। अब तक यह सीमा 20,000 रुपये थी। इसके अलावा सरकार ने देश के अलग-अलग इलाकों में मोबाइल बैंकिंग वैन के माध्यम से कैश उपलब्ध कराने का निर्देश बैंकों को दिया है। रिजर्व बैंक ने 500 रुपये का नया नोट भी जारी कर दिया है और इसकी आपूर्ति देशभर की बैंक शाखाओं में की जा रही है।
वित्त मंत्री और गृह मंत्री ने की हालात समीक्षा
वित्त मंत्री अरुण जेटली और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को रिजर्व बैंक, डाक विभाग, वित्त मंत्रालय और केंद्रीय गृह मंत्रालय के आला अफसरों के साथ बैठक कर देशभर में नकदी उपलब्धता की स्थिति का जायजा लिया। बाद में वित्त मंत्रालय ने कहा कि 10 नवंबर से 13 नवंबर शाम पांच बजे तक देशभर में सभी बैंकों की शाखाओं में 3 लाख करोड़ रुपये से अधिक के 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट जमा हो चुके हैं। 50,000 करोड़ रुपये से अधिक राशि लोग निकाल भी चुके हैं।
नकदी के अभाव वाले ग्रामीण इलाकों की पहचान
सरकार ने राज्यों के मुख्य सचिवों से ऐसे ग्रामीण क्षेत्रों की पहचान करने को कहा है जहां नकदी उपलब्धता की समस्या है। बैंकों और डाकघरों के साथ सहयोग करने के लिए भी कहा गया है, ताकि बैंकिंग कॉरेस्पोंडेंट तथा मोबाइल कैश वैन के माध्यम से नकदी की आपूर्ति की जा सके।
चेक न लेने वाले अस्पताल व कैटरर की करें शिकायत
वित्त मंत्रालय ने कहा कि ऐसा देखा गया है कि कुछ अस्पताल, केटरर, टेंट हाउस और अन्य बिजनेस हाउस चेक या डिमांड ड्राफ्ट और ऑनलाइन ट्रांसफर ग्राहकों से स्वीकार नहीं कर रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ ग्राहक जिला प्रशासन से शिकायत कर सकते हैं। बैंकों को यह भी कहा गया है कि वे प्रमुख अस्पतालों के पास मोबाइल बैंकिंग वैन के माध्यम से बैंकिंग ट्रांजेक्शन की सुविधा मरीजों के लिए शुरू करें। वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगों के लिए अलग लाइन की सुविधा करने करने, नोट बदलने और बैंक खाते से लेनदेन के लिए भी अलग लाइनें बनाने का निर्देश भी बैंकों को दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।