धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शुक्रवार, 26 अगस्त 2016

गंगा पहुंची गोसाईंगांव, श्रीकृष्ण मंदिर हुआ लबालब

नवगछिया, भागलपुर (नवबिहार न्यूज नेटवर्क): जन्माष्टमी के मौके पर आखिरकार गंगा नदी भागलपुर जिले के नवगछिया अनुमंडल अंतर्गत बने गंगा प्रसाद जमींदारी बाँध को लक्ष्मीपुर लोहा पुल के समीप तोड़ते हुए गोसाईंगांव स्थित श्रीकृष्ण मंदिर तक
पहुँच ही गयी। फिलहाल पूरा गोसाईंगांव गंगा नदी के आगोश में है। जहां ग्रामीणों और बुजुर्गों का मानना है कि भगवान श्री कृष्ण के चरण स्पर्श के लिये जन्माष्टमी के मौके पर ही गंगा मैया स्वयं बहती हुई गोसाईंगांव तक आ पहुंची है। मानना तो यहां तक है कि लीलाधारी भगवान श्रीकृष्ण के चरण स्पर्श के बाद गंगा मैया स्वतः वापस भी चली जायेगी।
फिलहाल जहां गोसाईंगांव के कुछ लोग गंगा मैया के श्रीकृष्ण मंदिर तक पहुंचने से उत्साहित हैं, वहीँ इसी गाँव के गरीब और किसी तरह से जीवन गुजारने वाले लोग इस बाढ़ से खासे परेशान भी नजर आ रहे हैं। जिनके साथ साथ और भी कई गाँव के लोगों के बीच तबाही मच गयी है।
बताते चलें कि बीती आधी रात से ही जन्माष्टमी का उत्सव गोसाईंगांव सहित पूरे नवगछिया अनुमंडल में विभिन्न जगहों पर मनाया जा रहा है। इसी क्रम में आधी रात के बाद ही जोरों की हवा तूफ़ान की तरह चली और इसके साथ ही शुरू हो गयी भीषण वर्षा। जिसकी वजह से पकरा गाँव से सटे लक्ष्मीपुर के रास्ते में बने लोहा पुल के समीप पुराने गंगा प्रसाद जमींदारी बाँध को गंगा नदी ने ध्वस्त कर दिया। इसके बाद ही हहराती और घहराती हुई गंगा मैया गोसाईंगांव तक आ पहुंची है।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।