धन्यवाद

*** *** नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए दशहरा के मौके पर ही 10 लाख को पार कर चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** नव-बिहार समाचार के इस चैनल में अपने संस्थान का विज्ञापन, शुभकामना संदेश इत्यादि के लिये संपर्क करें राजेश कानोडिया 9934070980 *** ***

शनिवार, 14 मई 2016

एक बार फिर लगा जुगाड़ गाड़ी पर बैन

भागलपुर (नवबिहार न्यूज नेटवर्क)।
भागलपुर बांका जिले की सड़कों पर अब नहीं चलेगी जुगाड़ गाड़ी। इसके साथ ही बिहार राज्य खाद्य निगम या भारतीय खाद्य निगम के 15 वर्ष पुराने खटारा ट्रक भी अब सड़कों पर नहीं दौड़ेंगे। यह निर्णय शुक्रवार को क्षेत्रीय प्राधिकार क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार की बैठक में लिया गया।

बैठक में भागलपुर के प्रमंडलीय आयुक्त आर एल चौंगथु ने भागलपुर व बांका के जिला पदाधिकारियों को सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के आलोक में इसका अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। दोनों जिलों की पुलिस के अलावा जिला परिवहन पदाधिकारियों और मोटरयान निरीक्षकों को भी इसका अनुपालन करने की जिम्मेदारी दी गई है। आयुक्त ने दोनों जिलों के अधिकारियों से ओवरलोडिंग रोकने और इसके खिलाफ सघन अभियान चलाने का भी निर्देश दिया है । उन्होंने कहा कि सड़क पर चल रहे 15 साल पुराने ट्रकों की फिटनेस की जांच कराएं, जो ट्रक फिटनेस में फेल हो रहे हैं उन्हें सड़कों से बाहर कर दें।

एक बार पहले भी लगा था बैन
बताते चलें की इससे पहले भी 2013 में जुगाड़ गाड़ियों पर प्रतिबंध लगा था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर तत्कालीन जिलाधिकारी प्रेम सिंह मीना व तत्कालीन एसएसपी राजेश कुमार ने जुगाड़ गाड़ियों के परिचालन पर रोक लगा दी थी। एसएसपी ने शहर में चलने वाली जुगाड़ गाड़ियों के खिलाफ धरपकड़ अभियान भी चलाया था। इस दौरान एक दर्जन से अधिक गाड़ियों को कोतवाली समेत अन्य थानों में रखा गया था। यह कार्रवाई तब हुई थी जब एक के बाद एक कई दुर्घटनाएं शहर में जुगाड़ गाड़ियों से हुई थी। इसके विरोध में जुगाड़ के चालकों ने आंदोलन भी चलाया था। सेंडिश कंपाउंड में बैठक कर वहां से जुगाड़ गाड़ियों का लंबा जुलूस निकाला गया था। आंदोलन को देखते हुए प्रशासन ने कार्रवाई से अपने हाथ पीछे खींच लिए थे। तब से लेकर अब तक हजारों की संख्या में जुगाड़ गाड़ियों का परिचालन बेरोकटोक हो रहा है। जो भागलपुर से लेकर  तमाम शहरों में अपना जाल फैलाता जा रहा है।

नवगछिया में भी धड़ल्ले से दौड़ रही है जुगाड़ गाडी
लाइसेंस रहित प्रदुषण युक्त तथा पूरी तरह से असुरक्षित वाहन जुगाड़ गाडी भागलपुर जिले के नवगछिया शहर में भी सैकड़ों की संख्या में बेलगाम बेरोकटोक धड़ल्ले से सड़कों पर दौड़ रही है जो कई बार दुर्घटनाग्रस्त हो चुकी है तथा कभी भी किसी भी अनहोनी घटना को पुनः अंजाम दे सकती है।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।