ब्रेकिंग न्यूज

*** *** *** ध्यान दें- नवगछिया समाचार अब अपने विस्तारित स्वरूप "नव-बिहार समाचार" के रूप मे प्रसारित हो रहा है, जिसमें आपका पूर्ण सहयोग अपेक्षित है. *** आपके लगातार सहयोग से ही पाठकों की संख्या लगातार बढ़ते हुए लगभग 10 लाख पहुंच चुकी है,इसके लिए आपका धन्यवाद। *** ***

सोमवार, 2 मई 2016

रिलायंस लाइफ इंश्योरेंस कंपनी ने सर्वाधिक एजेंट किया बहाल

चेन्नई। रिलायंस लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड ने 23 कंपनियों वाले निजी जीवन बीमा क्षेत्र में गत कारोबारी साल में सर्वाधिक व्यक्तिगत एजेंट बहाल किए। यह जानकारी उद्योग संघ लाइफ इंश्योरेंस काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा जारी आंकड़ों से मिली।

अनिल अंबानी के समूह की कंपनी रिलायंस लाइफ ने गत कारोबारी साल कंपनी को छोडऩे वाले एजेंटों को समायोजित करने के साथ ही कुल 47,692 अतिरिक्त एजेंट बहाल किए, जिससे कंपनी के एजेंटों की कुल संख्या बढक़र 1,29,693 हो गई।

संयोगवश निजी जीवन बीमा कंपनियों के बीच रिलायंस लाइफ के व्यक्तिगत एजेंटों की संख्या सर्वाधिक है।

कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और कार्यकारी निदेशक अनूप राव ने शनिवार को फोन पर आईएएनएस से कहा, ''इस साल नए एजेंटों की संख्या कम रह सकती है। हमारा ध्यान उनकी उत्पादकता पर रहेगा। देश में जीवन बीमा एजेंसी को लोग अंशकालिक पेशे के रूप में लेते हैं। हम चाहते हैं कि वे इसे पूर्ण कालिक पेशे के रूप में लें।''

उन्होंने कहा कि कंपनी की करीब 60 फीसदी योजनाएं ऐजेंटों द्वारा बेची जाती हैं और एजेंट चैनल के तहत प्रति योजना औसत प्रीमियम (एपीपीपी) करीब 23,500 रुपये होता है।

लाइफ इंश्योरेंस काउंसिल के मुताबिक, गत वर्ष निजी जीवन बीमा क्षेत्र ने कुल 3,45,715 नए एजेंट जोड़े, वहीं 2,94,949 एजेंटों ने काम छोड़ दिया, जिससे एजेंटों की कुल संख्या में 50,766 की वृद्धि दर्ज की गई।

सभी निजी जीवन बीमा कंपनियों में एजेंटों की कुल संख्या 31 मार्च, 2016 को 9,54,997 दर्ज की गई, जो एक अप्रैल 2015 को 9,04,231 थी।

वहीं सरकारी कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के एजेंटों की संख्या इस दौरान 11,63,604 से घटकर 10,61,560 हो गई।

कोई टिप्पणी नहीं:

ताजा समाचार

ताजा समाचार प्राप्त करने के लिये अपना ई मेल पता यहाँ नीचे दर्ज करें

संबन्धित समाचार

आभारनवगछिया समाचार आपका आभारी है। आपने इस साइट पर आकर अपना बहुमूल्य समय दिया। आपसे उम्मीद भी है कि जल्द ही पुनः इस साइट पर आपका आगमन होगा।

Translatore

ज्यादा पढे गये समाचार

घूमता कैमरा

सुझाव दें या सीधे संपर्क करें

नाम

ईमेल *

संदेश *

आभार

नवगछिया समाचार में आपका स्वागत है| नवगछिया समाचार के लिए मील का पत्थर साबित हुआ 24 नवम्बर 2013 का दिन। यह वही दिन है जिस दिन नवगछिया अनुमंडल की स्थापना हुई थी 1972 में। यह वही दिन है जिस दिन आपके इस चहेते नवगछिया समाचार ई-पेपर के पाठकों की संख्या लगातार बढ़ कर दो लाख हो गयी। नवगछिया, भागलपुर के अलावा बिहार तथा भारत सहित 54 विभिन्न देशों में नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों का बहुत बहुत आभार | जिनके असीम प्यार की बदौलत नवगछिया समाचार के लगातार बढ़ते पाठकों की संख्या 20 मई 2013 को एक लाख के पार हुई थी। जो 24 नवम्बर 2013 को दो लाख के पार हो गयी थी । अब छः लाख सत्तर हजार से भी ज्यादा है। मित्र तथा सहयोगियों अथवा साथियों को भी इस इन्टरनेट समाचार पत्र की जानकारी अवश्य दें | आप भी अपने क्षेत्र का समाचार मेल द्वारा naugachianews@gmail.com पर भेज सकते हैं।